बिंदिया टिप्स

‘चाइल्ड पोर्नोग्राफी’ वेबसाइट पर गूगल ने पाबंदी लगा दी है, जिसमें गूगल पर एक लाख से अधिक सर्च में बच्चों से संबंधित अश्लील वीडियो नहीं दिखेंगे। साथ ही गूगल इंजीनियरों ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिल कर ‘यू-ट्यूब’ के लिए वीडियो पहचानने की नई तकनीक विकसित की है। इसके जरिए ‘यू-ट्यूब’ पर डाली जाने वाली ‘चाइल्ड पोर्नोग्राफी’ वीडियो को पहचान लिया जाएगा। ये तो बात हुई ‘चाइल्ड पोर्नोग्राफी’ की। लेकिन इंटरनेट पर वयस्क पोर्नोग्राफी का क्या? इस पर भी तो पाबंदी लगनी चाहिए! इंटरनेट के कारण उत्तेजक वीडियो यानी पोर्न फिल्मों का व्यापार बड़े पैमाने पर किया जा रहा है। 

घर की खुशहाली, शांति और समृद्धि में यदि किसी का सबसे ज्यादा योगदान होता है तो वह है स्त्री। वही स्त्री जो कभी पत्नी, कभी मां, कभी बहू और कभी सास के रूप में सामने आती है। यह स्त्री ही है जो दांपत्य की नाजुक डोर को बड़ी नाजुकी से अपने हाथों में थामे रखती है। यह कहना इसलिए भी प्रासंगिक है क्योंकि स्त्री की समझदारी ही अक्सर बिखरते दांपत्य की कड़ियों को जोड़ने में सफल रही है। ऐसे उदाहरण एक नहीं, अनेक हैं। 

मतंग पर्वत श्रेणियों के मध्य 26 वर्ग किलोमीटर में फैला हम्पी ग्रेनाइट की पहाड़ियों से घिरा है। प्रकृति की गोद में बसा यह मनोरम स्थल पर्यटकों को बरबस ही आकर्षित करता है। यहां के दर्शनीय मंदिरों की रोचक जानकारी प्रस्तुत कर रहे हैं चेतन चौहान। 

बात-बात में पिटने से बच्चों के मन में यह भावना घर कर जाती है कि पिटाई से सब ठीक हो जाता है। कोई भी माता-पिता अपने बच्चे में इस भावना को पनपते नहीं देखना चाहेंगे। इसके लिए उन्हें खुद पर नियंत्रण रखना होगा और समझना होगा कि पिटाई किसी समस्या का समाधान नहीं है। 

पहाड़ों की हरियाली, नदी का संगीत और फूलों की क्यारियों के बीच लकड़ी का खूबसूरत घर। ढलवा छतों वाले ये वुड हाउस कभी पहाड़ों की पहचान थे। लेकिन इकोफ्रेंडली हाउसिंग के इनोवेटिव कांसेप्ट ने कई नई परिभाषाएं गढ़ी हैं जिनमें एक है...वुड हाउस-कहीं भी, कभी भी। जी हां, अब वुड हाउस का मजा लेने के लिए पहाड़ जाने की जरूरत नहीं। अपने घर की छत पर भी आप अपनी हसरतों से सजा प्यारा वुड हाउस बना सकती हैं।